Breaking News

जब तेल अंतराष्ट्रीय बाजार में महगा था तब रिलायंस ने अपने पंप बंद क्यों किये और अब सस्ता है तो खोल क्यों दिए ?

देश में रिलायंस के 1,425 पेट्रोल पंप हैं. ये सारे पंप 2008 में बंद हो गए क्योंकि पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम हो गईं. दरअसल कच्चा तेल पूरी दुनिया में सस्ता हो गया था.विश्व स्तर पर कच्चा तेल सस्ता बना रहा.लेकिन इस बीच एक नई बात हुई. 2014 में देश में नरेंद्र भाई मोदी की सरकार आ गई. 18 अक्टूबर, 2014 को नरेंद्र भाई ने डीजल प्राइस को डिरेगुलेट कर दिया. इससे डीजल को महंगा करने का रास्ता साफ हो गया.इसके बाद से डीजल और पेट्रोल भारत में लगातार महंगे होते चले गए. 2015 की शुरुआत में रिलायंस के सभी 1,425 पेट्रोल पंप खुल गए. रिलायंस का बिजनेस अब अच्छा चल रहा है. देश के लोग खुश हैं. राष्ट्र प्रसन्न है. अब भारत में पेट्रोल और डीजल को महंगा होते जाने से दुनिया की कोई ताकत रोक नहीं सकती…..पेट्रोल और डीजल इतना महंगा तो होना ही चाहिए कि रिलायंस को तेल के बिजनेस में पर्याप्त आमदनी हो जाए. इसमें कौन सी गलत बात है ? मुकेश भाई ने 2012 से लेकर 2014 के बीच नरेंद्र मोदी पर सबसे ज्यादा निवेश किया. इसी की वजह से लालकृष्ण आडवाणी बीजेपी के सत्ता संघर्ष में हारे. अब निवेश पर मुनाफा कमाने का समय है तो आप लोग कह रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल महंगा क्यों है ?

दिलीप सी मंडल

Check Also

उत्तर कोरिया

कुत्ते कितना भी भौंकते रहे लेकिन कारवां चलता रहता हैं -उत्तर कोरिया का ट्रंप को जवाब

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की धमकियों की तुलना उत्तर कोरिया ने कुत्ते के भौंकने से ...