Breaking News
pm modi on unnao and jammu kashmir kathua rape kand

उन्नाव और कठुआ की घटना पर पीएम मोदी ने कहा ‘बेटियों को इंसाफ मिलेगा’ लेकिन हक़ीकत कुछ और ही बयान कर रही है…

उन्नाव और कठुआ रेप कांड का मामला सेट होते ही पीएम मोदी जनता के सामने आये. एक ओर देश की जनता सामाजिक तौर पर न्याय के लिए सरकार पर दबाव बना रही है तो दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट और हाइकोर्ट दोनों ही अदालतें रेप और हत्या के मामलों पर गंभीरता से संज्ञान ले रही हैं। उन्नाव रेप कांड पर आरोपितों की गिरफ़्तारी और कठुआ रेप एंड मर्डर केस में विवादित बयान देने वाले बीजेपी मंत्रियों के इस्तीफे के बाद तब जाकर माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी जनता के सामने आये और कहा ‘बेटियों को इंसाफ मिलेगा’। उनके चेहरे के एक्प्रेशन से लग रहा था कि वो काफी दुखी हैं। अगर वो सच में इतने दुखी हैं तो अपना दर्द ज़हिर करने में एक सप्ताह का वक्त क्यों लगा दिया। जबकि देश की जनता और इस मुद्दे पर हफ्ते भर से आक्रोशि है और तमाम विपक्ष मोदी-योगी सरकार पर लगातार राजनैतिक हमले कर रहा है।

देखिये ! क्या है पूरा मामला…

अब सवाल यह उठता है कि जनता और विपक्ष के दबाव, सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के गंभीरता से संज्ञान लेने के बाद ही आरोपित बीजेपी विधायक की गिरफ्तारी और तुष्टीकरण करने वाले बीजेपी मंत्रियों का इस्तीफा देना संभव हो सका है तो इसमें मोदी जी धार्मिक नफरत और सत्ताधारी की हवस का शिकार बनी उन दोनों बेटियों को कैसे इंसाफ दिला सकेंगे? जबकि माहौल भांपने में लगे मोदी जी इतने दिनों तक अपने मन की बात भी खुल कर जनता से नहीं कह पा रहे थें।

 Watch Video

उत्तर प्रदेश के उन्नाव रेप कांड पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद बलात्कार के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर आज गिरफ्तार हो गये है। बलात्कार और पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज होने के बाद भी प्रदेश की बीजेपी सरकार और यूपी पुलिस आरोपित विधायक को सबूतों की कमी का बहाना बता कर गिरफ्तार नहीं कर रही थी। जबकि प्राॅटेक्शन आॅफ चिल्ड्रेन फ्राॅम सेक्चुअल आॅफेंसेस एक्ट में बिना सबूत और देरी के आरोपित को गिरफ्तार किया जा सकता है। कम से कम इस मामले पर गोदी मीडिया ने भी ईमानदारी से अपनी भूमिका निभाई।

कृपया इधर भी विशेष ध्यान दें…

यदि आप गोदी मीडिया के खिलाफ हमारी मुहीम से जुड़ना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडलगूगल प्लस, व्हाट्सअप ब्रॉडकास्ट 9198624866 पर जुड़ें साथ ही देश और राजनीति से जुड़ी सच्ची खबर देखने के लिए हमारा Hindi News App डाउनलोड करें। याद रहे, 90% बिक चुका गोदी मीडिया आपको सच्ची खबर कभी नहीं दिखायेगा।

जम्मू-कश्मीर के कठुआ रेप और हत्या केस पर सुप्रीम कोर्ट के संज्ञान लेने के बाद दो बीजेपी मंत्रियों का इस्तीफा पीडीपी सरकार ने लिया है। जम्मू कश्मीर के कठुआ में रहने वाली आठ साल की बच्ची आसिफा के साथ जनवरी में कई दिनों तक बंधक बना कर दुश्कर्म और हत्या के मामले की जांच कर रही एसआईटी की रिपोर्ट आने के बाद आरोपित के परिवारवालों के साथ हिन्दू समूदाय का तुष्टीकरण कर रहे पीडीपी सरकार के दो मंत्रियों का आरोपितांे को बचाने के पक्ष में वीडियो सामने आया था। जिसके बाद सीएम महबूबा मुुुफती ने कड़ा एतराज़ जताते हुए इस मामले पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह से दिल्ली जाकर मुलाकात की। बता दें कि आरोपितों के परिजनों ने सीबीआई से मामले की जांच कराने की मांग की है।

 

You May Like This News….

Check Also

सपा बसपा गठबंधन ने भाजपा को ऐसा किया मजबूर कि लगी सरकार दलित के घर लोटने !

गोरखपुर मे सपा बसपा गठबंधन की जीत ने पूरी भाजपा को ऐसा मजबूर कर दिया ...