Breaking News

कर्नाटक मे बीजेपी नेता के घर से 80 ईवीएम और वीवीपैट बरामद, चुनाव आयोग मौन क्यो?

कर्नाटक मे बीजेपी ने ईवीएम हैक कराई थी जिसके सबूत मिलने लगे हैं, बीजेपी नेता के घर से 80 वीवीपैट का बरामद होना पूरी चुनावी वयवस्था पर सवाल खङा हो गया है कि क्या चुनाव आयोग बीजेपी से मिला हुआ है ?

अभी दो दिन पहले सङक के किनारे एक मजदूर के घर से 8 मशीने बरामद हुई थी और अब बीजेपी नेता के घर से 80 मशीने बरामद हुई अब कोई शक की गुंजाइश नही बची कि बीजेपी चुनाव मे ईवीएम हैक करा रही है।

बीएस येदियुरप्पा ने विजयपुरा जिले में झोपड़ी में मिले आठ वीवीपीएटी मशीन पर सवाल उठाया है. इस मामले को लेकर येदियुरप्पा ने मुख्य चुनाव आयोग को पत्र लिखकर शिकायत की है.

येदियुरप्पा ने पत्र में लिखा, “यह पहली बार नहीं है जब चुनाव में अनियमितताओं के बारे में चुनाव आयोग और चुनाव आयोजन में लगे जमीनी स्तर के अधिकारियों को बताया गया. मतदान से पहले हमने संबंधित अधिकारियों को ऐसी कई अनियमितताओं के बारे में बताया, लेकिन वह व्यर्थ गया।

उन्होंने पत्र में लिखा, “मुझे पूरा विश्वास है कि चुनाव आयोग ने विजयपुर जिले के मणगुली गांव के पास एक शेड में वीवीपीएटी मशीनें मिलने के मामले को गंभीरता से लिया है. यह मामला कर्नाटक के विधानसभा चुनाव में गंभीर अनियमितताओं को दर्शाता है।

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक के विजयपुरा जिले के एक गांव की झोपड़ी में इस्तेमाल हो चुकी आठ वोटर वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीन मिली हैं. भाजपा ने इस पर सवाल उठाते हुए चुनाव में गंभीर धांधली का आरोप लगाया है. इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के सबसे बड़े दल भाजपा ने कहा है कि इसने चुनाव में भारी अनियमितता को बेनकाब कर दिया है

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजीव कुमार ने सोमवार को कहा था कि मानंगुली गांव में रविवार को मिले ये बक्से निर्वाचन आयोग के नहीं थे. उनमें मशीन और पेपर भी नहीं थे. इसके अलावा उसमें यूनीक इलेक्ट्रॉनिक ट्रैकिंग नंबर भी नहीं था. संजीव कुमार ने कहा कि जो लोग भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, उनके खिलाफ निर्वाचन आयोग सख्त कार्रवाई करेगा।

देशवासियों, देखो रंगा बिला का कैसे लोकतंत्र का गला घोट रहा है EVM सेटिंग से हर चुनाव में भाजपा बङी पार्टी बनती है।तभी बिना दावे के साथ कहता है भाजपा की 130 सीटें आयेगी हम सरकार बनाने जा रहे हैं EVM का बहिष्कार करो- लालू प्रसाद यादव

क्या मा. चुनाव आयोग जनता को बतायेंगे यह मशीनें किस की है और मज़दूरों के गोदाम में क्या कर रही थीं ? इनके क्या नम्बर हैं और क़िसको सौंपी गई थीं ? जॉंच तो होगी किन्तु मुझे आशंका है जॉंच रिपोर्ट उजागर नहीं होगी – दिग्विजय सिंह

कर्नाटक की सियासत में उठा पटक के बाद अब नया मामला सामने आया है। कर्नाटक की विजयपुरा विधानसभा में वीवीपैट की 8 मशीने बरामद हुई हैं। कर्नाटक पुलिस का कहना है कि यह सभी मशीनें मजदूरों के घर से मिली हैं। इन मशीनों में बैटरी नहीं है।  मामले में पुलिस ने केस रजिस्टर कर लिया है। फिलहाल पुलिस मामले में जांच कर  रही हैं।

कर्नाटक में कई जगहों से ईवीएम और वीवीपैट मिलने का से सनसनी फैल गई है। चुनाव आयोग ने कहा ये मशीने उसकी नही है तो सवाल उठता है कि ये ईवीएम कहा से आई फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।

सूत्रों के अनुसार बीजेपी ने कर्नाटक मे ईवीएम हैकरों से 100 सीटे ही हैक कराई थी जिसके कारण उसको सत्ता हासिल नही हुई।

Check Also

नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा पुराना नोट अमित शाह की बैंक मे जमा हुआ – आरटीआई

यह सही है कि नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा फायदा बीजेपी ने ही उठाया है ...