Breaking News

शुरू हो गयी 2019 की तैयारी, अखिलेश का घर तोङने के बाद लफंदरो ने अब ताजमहल मे शुरू की तोङ फोङ।

शुरू हो गयी 2019 की तैयारी, अखिलेश का घर तोङने के बाद लफंदरो ने अब ताजमहल मे तोङ फोङ शुरू कर दी है।बीजेपी और विहिप के लफंदरो ने ताजमहल परिसर में घुसकर हंगामा और तोड़फोड़ शुरू कर दी है । आरोप है कि भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण विभाग ने सैकड़ों साल पुराने सिद्धेश्‍वर महादेव मंदिर जाने का रास्‍ता रोक दिया था, जिसके कारण उन्‍हें यह कदम उठाना पड़ा।

बहुत दिनो से बीजेपी जुगाड मे थी कि ताजमहल को कैसे निशाने पर ले आये। यह सब 2019 की तैयारियो का ट्रेलर माना जा रहा है। बीजेपी और विश्‍व हिंदू परिषद  के दर्जनों लफंदरो ने ताज परिसर में घुसकर न केवल हंगामा किया बल्कि जमकर तोड़फोड़ भी की।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बीजेपी विहिप के कार्यकर्ताओं ने परिसर के अंदर नारेबाजी भी की। इससे पर्यटकों को असुविधा का सामना करना पड़ा। जानकारी के मुताबिक, 20 से 25 लोगों ने ताजमहल के पश्चिमी गेट पर हमला बोल दिया था। इन लोगों ने भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण विभाग द्वारा लगाए जा रहे गेट को भी उखाड़ दिया है।

हिंदूवादी संगठन के लफंदरो का आरोप है कि एएसआई ताजमहल की सुरक्षा के नाम पर सिद्धेश्‍वर महादेव मंदिर जाने का 500 साल पुराना रास्‍ता बंद कर रहा है। मंदिर कमेटी के अध्‍यक्ष संजय दुबे ने एएसआई पर मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए असुविधा उत्‍पन्‍न करने का आरोप लगाया है इससे लोगों की भावनाओं को भी ठेस पहुंचा है। अगर इसी तरह से कुछ किया जाता रहा तो हमलोग भजन-किर्तन करने पर बाध्‍य होंगे।

विहिप के कार्यकर्ता रवि दुबे ने भी एएसआई के कदम पर सख्‍त नाराजगी जताई है। उन्‍होंने कहा, ‘एएसआई ने मंदिर जाने का रास्‍ता अवरुद्ध कर दिया है। हम लोग उसी का विरोध कर रहे हैं। हम लोग इस गेट को उखाड़ेंगे। कोई 400 वर्ष प्राचीन मंदिर का रास्‍ता कैसे रोक सकता है अब तो हमारी सरकार है रोक कर दिखाओ कर दिखाओ।

बीजेपी के लफंदरो के उग्र तेवर को देख पुरातत्‍व विभाग ने पुलिस-प्रशासन से शिकायत की, जिसके बाद स्‍थानीय प्रशासन हरकत में आया। इस मामले में सभी आरोपी जाने पहचाने है पर ऊपर से फोन आने के बाद पुलिस ने सिर्फ 4-5 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लीपा पोती की है।

Check Also

नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा पुराना नोट अमित शाह की बैंक मे जमा हुआ – आरटीआई

यह सही है कि नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा फायदा बीजेपी ने ही उठाया है ...