Breaking News

भक्त ट्विटर पे 10-10 रुपए प्रति टवीट लेकर मोदी जी को ट्रेड करा रहे हैं, जबकि विनीत जैन हजारो करोङ ले भागा

उधर विनीत जैन हज़ार करोड़ ले रहा है और इधर भक्त बिचारे ट्विटर पे 10-10 रुपए प्रति टवीट लेकर मोदी जी को ट्रेड करा रहे हैं। दुःख होता है देख कर।

कोबरा पोस्ट ने ‘ऑपरेशन 136’ मीडिया स्टिंग ऑपरेशन का अगला भाग 2 जारी किया है जिससे बीजेपी और पेटीएम बेनकाब हो गयी।

कोबरा पोस्ट ने ‘ऑपरेशन 136’ अभियान की दूसरी किस्त मा आरोप लगाया कि भारतीय मीडिया हाउस राजनीतिक अभियान चलाने, विपक्षी नेताओं को बदनाम करने और पैसे के बदले में चुनावी लाभ के लिए हिंदुत्व एजेंडा का प्रचार करने पर सहमत हुए हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट ने गुरुवार को कोबरापोस्ट के स्टिंग ऑपरेशन की प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोक लगा दी थी। दैनिक भास्कर मीडिया ग्रुप ने दिल्ली हाईकोर्ट में अर्जी डालकर इस स्क्रीनिंग पर रोक लगाने की मांग की थी। दैनिक भास्कर की दलील थी कि कोबरा पोस्ट के स्टिंग ऑपरेशन की डाक्युमेंट्री से उनकी प्रतिष्ठा को जो नुकसान होगा उसकी भरपाई मुमकिन नहीं होगी।

अहम बात ये है कि कोबरापोस्ट ने कहा है कि दैनिक भास्कर ग्रुप पर भी ये स्टिंग ऑपरेशन किया गया। कोबरापोस्ट के मुताबिक हाईकोर्ट के आदेश पर अमल किया गया है। उनके मुताबिक दैनिक भास्कर से जुड़ी जांच को फिलहाल रिलीज नहीं किया जा रहा है। कोबरापोस्ट के मुताबिक कोर्ट में उनका पक्ष सुने बिना ही आदेश दे दिया गया और वो इसे चुनौती देगा।

कोबरापोसट ने खुफिया कैमरों से ऑपरेशन किए हैं, कोबरा पोस्ट  आरोप लगाया है कि मीडिया प्रकाशन “सांप्रदायिक तनाव के साथ मतदाताओं को ध्रुवीकरण करने की वाली सामग्री प्रकाशित करने पर सहमत है।

ऑपरेशन ने यह भी आरोप लगाया कि मीडिया हाउस भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, केंद्रीय मंत्रियों और सत्तारूढ़ दल के गठबंधन सहयोगियों के खिलाफ फर्जी कहानियां बनाने के लिए तैयार है, जो मोटे पैसे के लिए राजनीतिक षड्यंत्र के लिये रिपोर्ट तैयार करते थे।

 

Check Also

नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा पुराना नोट अमित शाह की बैंक मे जमा हुआ – आरटीआई

यह सही है कि नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा फायदा बीजेपी ने ही उठाया है ...