Breaking News

बीजेपी ने कहा – कैराना में बीजेपी हारी तो पाकिस्तान में मनेगी दीवाली, लोग बोले – गोरखपुर हारने पर तो नही मनी दिवाली !  

भारत के मुस्लिम पाकिस्तान थूकने भी नही जाते है। नाम तो लेना दुर कि बात है पर कुछ लोग बिरयानी खाने चले जाते हैं, खुद पाकिस्तान  का नाम लेते है, पर गलत मुस्लिम को बताते है।ऐसी दोगली नस्ल के है ये लोग है – डा रुबीना

कैराना – उत्तर प्रदेश में ब्रज मंडल के भाजपा पार्टी प्रमुख मनोज कश्यप ने मतदाताओं से कहा कि वे कैराना के आगामी लोकसभा उपचुनाव मे भाजपा की जीत सुनिश्चित करें ताकि पाकिस्तान, जम्मू कश्मीर और देश के दूसरे मोदी विरोधी क्षेत्रों में दीवाली जैसा उत्सव न मने।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा, ‘भाजपा की उम्मीदवार मृगंका सिंह की हार पर इन क्षेत्रों में दीवाली जैसा उत्सव मनाया जाएगा. कुछ उसी तरह जैसा गोरखपुर और फूलपुर के लोकसभा उपचुनाव में पार्टी की हार के समय हुआ था.’

एक वीडियो में वे सोमवार को कैराना में भाजपा के चुनाव कार्यालय के उद्घाटन के अवसर पर कथित रूप से यह कहते हुए सुने गए , ‘हमारे प्रधानमंत्री देश के 125 करोड़ लोगों की भलाई के लिए अपनी जिंदगी तक बलिदान करने तैयार हैं।

उन्होंने आगे कहा, ‘जब हमारे नेता अमेरिका जाते हैं, अमेरिका के राष्ट्रपति उन्हें गले लगाते हैं. लेकिन, जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री वहां जाते हैं, उनकी तलाशी ली जाती है.’

अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक, कैराना विधानसभा क्षेत्र के चुनाव प्रभारी मनोज कश्यप ने कहा कि कैराना में भाजपा हार गई, तो हिंदुस्तान कमजोर हो जाएगा और हर हिंदुस्तानी की आंखों में आंसू होंगे.

उन्होंने कहा कि दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की चिंगारी नष्ट नहीं होना चाहिए जिन्होंने कैराना पलायन की बात अमेरिका तक पहुंचाई थी.

पत्रिका द्वारा जारी एक वीडियो में मनोज कहते सुने जा रहे हैं, ‘हिंदुस्तान कमजोर हो जाएगा, मेरा मोदी कमजोर हो जाएगा, सारा हिंदुस्तान देख रहा है कैराना लोकसभा क्षेत्र के चुनावों को… अगर यहां पर गलती से भी विपक्षी जीत गए तो पाकिस्तान में दीवाली मनने वाली है… जम्मू कश्मीर के ऑक्यूपाई में दीवाली मनने वाली है. मित्रों .. हिंदुस्तान की आंखों में आंसू होंगे यदि एक भी वोट के कारण से यहां पर भारतीय जनता पार्टी हार गई।

इस दौरान सांसद संजीव बालियान ने कहा कि कैराना पलायन जैसे हालात पैदा करने वाले और गुंडों को संरक्षण देने वाला परिवार कौन है, जनता सब जानती है।

मुजफ्फरनगर से भाजपा सांसद बालियान ने कहा, ‘प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2013 के सांप्रदायिक दंगे के दौरान दर्ज हुए फ़र्ज़ी मुकदमों को वापस लेने की बात कही, तो कैराना का वह परिवार विरोध में उतर गया. अब उन्हें जनता को जवाब देना होगा कि फ़र्ज़ी मुकदमे वापस कराने के पक्ष में है या विरोध में ?

उन्होंने कहा कि पिछले चार दशक में कैराना का क्या हाल रहा, सब जानते हैं. पहले पाकिस्तान से हथियारों की सप्लाई होती थी और उन हथियारों को सांप्रदायिक हिंसा के लिए प्रयोग किया जाता था.

उन्होंने कहा कि बदमाशों को संरक्षण देने वाला परिवार कौन है, जनता सब जानती है. लेकिन प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद कैराना में ही प्रदेश का पहला एनकाउंटर हुआ।

शामली से भाजपा विधायक तेजेंद्र निर्वाल कड़वे बोले बोलने में पीछे नहीं रहे. उन्होंने कहा, ‘इस चुनाव में दो ही प्रत्याशी हैं, एक प्रत्याशी वो है जो देश के साथ है. अब समय तटस्थ रहने का नहीं है, एक पक्ष में खड़े होने का है. जनता को तय करना है कि राष्ट्रवादी सोच के साथ रहना है या फिर देश विरोधी, आतंकी विचारधारा और जिन्ना को पूजने वालों के साथ।

निर्वाल ने आगे कहा, ‘अपने परिवार और बच्चों के भविष्य की खातिर भाजपा के साथ आना पड़ेगा और दूसरों को बताना पड़ेगा कि यहां जनता गुंडों और आतंकवादियों का समर्थन करने वालों के साथ नहीं है।

गौरतलब है कि बीजेपी की हार पर पाकिस्तान में दीवाली मनने वाली बात चुनावों में भाजपा नेताों द्वारा कहना कोई नई बात नहीं है. बिहार चुनाव के वक्त स्वयं भाजपा अध्यक्ष ने कहा था कि अगर भाजपा हारी तो दीवाली पर पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे।

Check Also

जब तक पढ़े लिखे लोग राजनीति में नहीं आयेंगे, तब तक मोदी, योगी, विप्लब जैसे लोग हुकूमत करते रहेंगे।

जब तक पढ़े लिखे ईमानदार लोग राजनीति में आगे नहीं आयेंगे तो मोदी, योगी, विप्लब ...