Breaking News
ईवीम हैक

बीजेपी ने कराई ईवीम हैक, चुनाव आयोग ने किया इंकार. जब तक ईवीम खुद नहीं कहेगी तब तक नहीं मानेंगे !

जैसा कि जनता को अंदेशा था कि बीजेपी बिना ईवीम हैक कराये चुनाव नहीं जीत सकती है आज उसने निकाय चुनाव में कानपुर, मेरठ, अमेठी सुल्तानपुर सहित तमाम जिन शहरों  में आज वोटिंग हुई है उसमे वोटर द्वारा किसी भी पार्टी का बटन दबाने पर बीजेपी को वोट जा रहा हैं। वही चुनाव आयोग ने इसे छोटी घटना बताकर अपना किनारा कर लिया है . मुझे तो अब ऐसा लगता है जब ईवीम खुद कहेगी कि उसको बीजेपी ने छेड़ा है तब हो सकता है कि चुनाव आयोग माने या जनता आक्रोशित होकर चुनाव अधिकारियों और बीजेपी नेताओं को दौड़ा दौड़ा कर मारने लगे तब मानेंगे कि हां बीजेपी बिना ईवीम के एक भी चुनाव नहीं जीत सकती इसलिए ईवीम हैक कराई गयी है.

ईवीम हैक

अब सवाल यह उठाता है कि ईवीम हैकरो को फंडिंग कौन और किस माध्यम से कर रहा है ये जानने के लिए जब हमने बीजेपी के नेताओ से संपर्क किया तो पता चला ईवीम हैकिंग में उसका कोई हाथ नहीं है ये तकनिकी मामला है ईवीम की जांच कराई जानी चाहिए कि आखिर वे कौन लोग हैं जो बीजेपी के पक्ष में ईवीम हैक कर रहे हैं उनको कहा से फंडिंग हो रही है अगर इसमें बीजेपी का कोई हाथ है तो वाकई ये बहुत शर्म की बात है.

पूरे उत्तर प्रदेश में ईवीम हैक हैं चुनाव आयोग ने कहा जब तक ईवीम खुद नहीं कहेगी कि उसको बीजेपी ने छेड़ा है तब नहीं मानेंगे !

Posted by Manoj Singh Gautam on Wednesday, November 22, 2017

मुझे लगता है कि बीजेपी जिन मुद्दों पर चुनाव लड़ती है वो सिर्फ दिखावा और झूठ का पुलिंदा होता है ये जनता को झांसा देने में माहिर हो चुके हैं  तभी ये जनता के हित में कोई भी काम नहीं करते क्योकि वोट तो ये ईवीम हैक कराकर ले लेते हैं तो जनता की सुने किसलिए ? अब जनता को ईवीम पर आन्दोलन करना होगा तभी ऐसे भ्रष्ट लोगो से लोकतंत्र को बचाया जा सकेगा वरना अगर ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं ये बीजेपी जनता की खाल तक उतार लेगी और जनता गाय गोबर तीन तलाक दलित हिन्दू मसलमान में उलझी रहेगी

 

Check Also

जब तक पढ़े लिखे लोग राजनीति में नहीं आयेंगे, तब तक मोदी, योगी, विप्लब जैसे लोग हुकूमत करते रहेंगे।

जब तक पढ़े लिखे ईमानदार लोग राजनीति में आगे नहीं आयेंगे तो मोदी, योगी, विप्लब ...