Breaking News
कहा हैं दो करोड़ रोजगार

क्या हर साल 2 करोड़ रोजगार न देने वाले नरेंद्र मोदी के नए झांसे में आयंगे युवा बेरोजगार ?

क्या हर साल दो करोड़ रोजगार न देने वाले नरेंद्र मोदी के नए झांसे में आयंगे युवा बेरोजगार ? हर साल घटते हुए रोजगार को चुनावी मुद्दा कैसे बनायेंगे नरेंद्र मोदी, क्या युवा फिर झांसे में आयंगे ! ये एक बड़ा सवाल है जिसका जवाब मोदी सरकार के पास नहीं है. सूत्रों की माने तो मोदी सरकार मिशन 2019 को ध्यान में रखते हुए बजट में नई नौकरियों को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती है। मोदी सरकार आगामी आम बजट में राष्ट्रीय रोजगार नीति की घोषणा कर सकती है। जिसके तहत हर क्षेत्र में नौकरियों के अवसर प्रदान करने का रोडमैप होगा। अब बड़ा सवाल यह है कि देश का युवा बेरोजगार मोदी जी झांसे में फिर से आएगा ?

पीएम मोदी ने 2014 में लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान हर साल दो करोड़ नई नौकरियां देने का  वादा किया था। वहीं, हर साल एक करोड़ युवा देश में नौकरियों के लिए तैयार हो रहे हैं, जो ऑटोमेशन और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की वजह से कई सेक्टरों में नौकरियों से दूर हो रहे हैं।

क्या जॉब के नए झांसे  से जीतेंगे 2019 के चुनाव की जंग 
बजट 2018-2019 मोदी सरकार के लिए बहुत कठिन है, क्योकि इसके पहले उन्होंने जो भी वादे किये थे उनमे से एक भी पूरे नहीं हुए हैं हालाँकि सरकार को मुगालते में रहने की आदत सी हो गयी है क्योकि उसके पास सबसे मजबूत हथियार ईवीम है मोदी सरकार के आकडे देखे जाए तो नौकरी के मामले में यह सरकार पिछले 6 साल का सबसे निचला स्तर पर चल रही है।श्रम मंत्रालय के आंकड़ों पर गौर करें तो 2015 में 135,000, 2014 में 421,000 और 2013 में 419,000 नई नौकरियां पैदा हुईं। वहीं लेबर ब्यूरो का एक और सर्वे बताता है कि बेरोजगारी दर भी पिछले 5 साल में सबसे ऊपर के स्तर पर है।

Check Also

मां सरस्वती

सुबह मां सरस्वती की पूजा, फिर जागरण के नाम पर रात भर चला ‘नंगा नाच’

बीजेपी सरकार के रामराज्य में एक तरफ जहां बसंत पंचमी के पावन पर्व पर छात्र मां ...