Breaking News
उत्तर कोरिया

कुत्ते कितना भी भौंकते रहे लेकिन कारवां चलता रहता हैं -उत्तर कोरिया का ट्रंप को जवाब

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की धमकियों की तुलना उत्तर कोरिया ने कुत्ते के भौंकने से की है. साथ ही कहा कि वह अमेरिका की धमकियों से बिल्कुल भी डरने वाले नहीं हैं. उत्तर कोरिया ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की उनके देश को बर्बाद करने की धमकी को तवज्जो नहीं दी है. ट्रंप ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए अपने पहले संबोधन में उत्तर कोरिया को चेतावनी दी थी कि अगर उसने अमेरिका या उसके सहयोगी देशों पर हमला किया तो अमेरिका उसे पूरी तरह बर्बाद कर देगा.संयुक्त राष्ट्र बैठकों के लिए न्यूयॉर्क पहुंचे उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योंग-हो को पत्रकारों ने ट्रंप के भाषण से संबंधित सवालों से घेर लिया और उत्तर कोरियाई मंत्री ने एक कहावत से इसका जवाब दिया

उन्होंने अपने होटल में प्रवेश करते हुए कहा, ‘एक कहावत है कि कुत्ते कितना भी भौंकते रहे लेकिन कारवां चलता रहता हैं.’ अगर वे धमकियों से हमें डराने की कोशिश कर रहे हैं तो वे निश्चित रूप से सपना देख रहे हैं.दुनिया से अलग-थलग पड़े और आर्थिक संकट से जूझ रहे उत्तर कोरिया ने कहा कि उसे अमेरिका की आक्रामकता से बचाव करने के लिए परमाणु हथियारों की जरूरत है.उत्तर कोरिया का लक्ष्य अमेरिका के मुख्य भूभाग तक मार करने की क्षमता विकसित करना रहा है और हाल के सप्ताह में उसने अपने परमाणु कार्यक्रम में तेजी लाई है. उत्तर कोरिया ने सितंबर में रॉकेट से ले जाने में सक्षम छोटे हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया.आपको बतां दे कि इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र में उत्तर कोरिया के खिलाफ बहुत कड़ी भाषा का इस्तेमाल किया था. उन्होंने उत्तर कोरिया को पूरी तरह से नष्ट कर देने की चेतावनी दी और वहां के शासको को अपराधियों का गिरोह बताया.

Check Also

लालू प्रसाद यादव

मोदी बचपन में चाय नहीं चरस बेचते थे – लालू प्रसाद यादव

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव कसा तंज  ,’मोदी बचपन में चाय ...